काली का टिब्बा मंदिर, चायल, सोलन, हिमाचल प्रदेश (Kali Ka Tibba, Chail, Solan, Himachal Pradesh )


हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले में चायल एक खूबसूरत पहाड़ी स्थल है, जो अपने नैसर्गिक सौंदर्य के लिए विख्यात है। यह स्थान काली का टिब्बा मंदिर,चायल महल, सिद्धबाबा मन्दिर, एशिया का सबसे उचाई पर बना क्रिकेट मैदान और पोलो के मैदान के साथ ही वन्यजीव अभयारण्य के लिए भी मशहूर है।

यह स्थान शिमला से लगभग 42 किलोमीटर की दूरी पर है। मैं यहां जून 2016 में भ्रमण पर थी। आइए, मेरी नजर से देखिए इस खूबसूरत स्थान को—

जब आप समुद्र से 2226 मीटर की ऊँचाई पर हों, तो प्राकृतिक सौंदर्य और मनोरम दृश्यों की गारंटी तो बनती ही है। ऐसा ही स्थल है चायल। शांत, सुंदर और रमणीय। काली का टिब्बा मंदि पहाड़ी पर स्थित यह स्थान प्रकृति की अद्भुत देन है।

इस पर्यटन स्थल से कण्डाधाट जाते समय लगभग 6 किलोमीटर की दूरी पर पहाड़ी की चोटी पर काली का टिब्बा मन्दिर स्थित है। मन्दिर तक जाने के लिये सड़क है, जिस पर छोटी गाड़ियां जा सकती हैं। मन्दिर के दर्शन के लिये पैदल भी जाया जा सकता है। सायंकाल सूर्य छिपने के समय यहां का दृष्य और भी सुन्दर हो जाता है। शिवालिक पहाड़ियों और चूर चांदनी पीक से यह मन्दिर घिरा हुआ है ।

इस स्थान पर 5 मन्दिर है। मुख्य मन्दिर काली माता का है, जिसे लगभग 2002 में बनाया गया था। इससे पूर्व इस स्थापन पर काली माता पिण्ड रूप में थीं, जो कि आज भी स्थित है। यहां पंचमुखी हनुमान मन्दिर, गणेश प्रतिमा व शिव मन्दिर भी हैं। शिव मन्दिर में अलग—अलग पाषण और धातु के शिवलिंग हैं।

मन्दिर से चारों ओर हरियाली और शान्त वातवरण में बैठकर शान्ति मिलती है। मन्दिर सफेद संगमर से बना हुआ है।

यहां आप चायल महल भी जा सकते हैं, जिसे पटियाला के महाराज भूपिंदर सिंह ने बनवाया था। यह उनकी ग्रीष्मकालीन राजधानी था। यह महल लगभग 115 वर्ष पुराना है। यहां आप अभयारण्य भी घूम सकते हैं। इंडियन मुन्टैक, लेपर्ड, साही, जंगली सूअर, गोरल, साम्भर और यूरोपीय लाल हिरण जैसे जानवर यहां देखे जा सकते हैं। यहां पेड़—पौधों की भी विविध प्रजातियां मौजूद हैं। यह ट्रैकिंग और फिशिंग के लिए उत्तम स्थान है।

चायल से काली का टिब्बा मंदिर जाते समय आप एशिया का सबसे उचाई पर बना क्रिकेट मैदान व सिद्धबाबा मन्दिर भी जा सकते हैं । ये दोनो स्थान सैनिक क्षेत्र मे स्थित है तथा यहां जाने से पूर्व अनुमति व जांच कराया जाना आवशयक है । सिद्धबाबा मन्दिर की स्थानीय क्षेत्र में बडी मान्यता है ।

मन्दिर में दर्शन का समय:
सुबह 5 बजे से रात्रि 9 बजे तक । समय ऋतुओं के अनुसार बदलता रहता है ।

Kali Ka Tibba, Chail, Solan, Himachal Pradesh on Google Map

कैसे पहुंचें (How To Reach)

सड़क: बस स्टेण्ड चायल— 6 किलोमीटर

रेलवे स्टेशन:शिमला — 49 किलोमीटर
चायल से प्राईवेट छोटे वाहन व स्वयं के वाहन से जाना उचित होता है ।


Share on Google Plus

About travel.vibrant4.com

हमारा प्रयास है कि हम भारत के हर मंदिर की जानकारी पाठकों तक पहुंचाएं। यदि आपके पास ​किसी मंदिर की जानकारी है या आप इस वेबसाइट पर विज्ञापन देना चाहते हैं, तो आप हमसे vibrant4india@gmail.com पर संपर्क कर सकते हैं।

0 comments :

Post a comment

Popular Posts