Sanghi Ji Jain Mandir Sanganer (सांघी जी मन्दिर, सांगानेर)

मन्दिर में मूल प्रतिमा आदिनाथ भगवान की है तथा इस प्रतिमा के आगे अन्य प्रतिमाओं की वेदी बनी हुई है ।


सांघी जी मन्दिर, सांगानेर

जयपुर (राजस्थान) की दक्षिण दिशा में लगभग 13 किमी दूरी पर सांगानेर कस्बा स्थित है। सांगानेर कस्बे में प्राचीन दिगम्बर जैन मन्दिर है, जो कि सांघी जी के मन्दिर से प्रसिद्ध है।

मन्दिर का निर्माण कब हुआ इसका सही आकलन नहीं किया जा सकता, परन्तु विद्वानों के अनुसार मन्दिर का निर्माण आठवी सदी में हुआ था । मन्दिर के एक द्वार पर सम्वत् 1011 अंकित किया हुआ है ।

मन्दिर में मूल प्रतिमा आदिनाथ भगवान की है तथा इस प्रतिमा के आगे अन्य प्रतिमाओं की वेदी बनी हुई है ।

मन्दिर जी में दो गुफाऐं है, जिन्हें वर्तमान में तलघर में बदल दिया गया है। प्रथम तल पर अतिप्राचीन प्रतिमाएं विराजमान है तथा द्धितीय तल पर चौबीसी का निर्माण किया हुआ है। चौबीसी पर बडे शिखर बने हुये है । द्धितीय तल पर पाण्डुशिला का निर्माण किया हुआ है । मन्दिर जी की बाहरी दीवार पर भक्तामर स्त्रोत 48 श्लोको के ​शिलालेख बनाये गये है ।

मान्यता है कि मन्दिर जी कुल 7 मंजिल का बना हुआ है परन्तु अभी वर्तमान में केवल 2 ही मंजिल के ही दर्शन हेाते है । मन्दिरजी के अन्दर की दीवार पर शिलालेख है, जिस पर मन्दिर जी के इतिहास के बारें मे लिखा गया है । लोकमान्यता के अनुसार शिलालेख के पीछे एक द्धार है जिसके अन्दर से मन्दिरजी में जाया जा सकता है । मान्यता के अनुसार मन्दिर के तलघर में यक्षदेव द्धारा रक्षित जिन चैत्यालय हैं, जिसमें केवल बालयती तपस्वी साधु ही प्रवेश कर सकते है। तलघर में स्थित जिनबिम्बों को जनता के दर्शानार्थ आचर्य श्री शान्ति सागर जी महाराज ने सन् 1933 में, आचर्य श्री देशभूषण जी महाराज ने सन् 1971 में आचार्य श्री विमल सागर जी महाराज ने सन् 1994 तथा मुनि श्री सुधासागर जी महारज सन् 1999 में लाये थे । जिन्हें समय पर पुन: तलघर में रखकर गया और तलघर के रस्ते को बन्द कर दिया गया ।

मन्दिर जी में आवास, भोजनालय की सशुल्क व्यवस्था है तथा मन्दिर जी प्रांगण में ऋषभ देव ग्रंथमाला भी है, जैन धर्म से सम्बन्धित पुस्तकें व अन्य प्रतिक चिन्ह विक्रय केिये जाते है ।

क्षेत्र में आवास व भोजन की व्यवस्था है ।

मन्दिर में दर्शन का समय:
मन्दिर जी के दर्शन सुबह 5 बजे से 9 बजे तक

Sanghi ji jain mandir sanganer on Google Map

कैसे पहुंचें (How To Reach)

सड़क: बस स्टेण्ड जयपुर 15 किमी, सांगानेर 2 किमी

रेलवे स्टेशन: जयपुर 16 किमी, सांगानेर 200 मीटर
जयपुर शहर से सभी प्रकार के साधन उपलब्ध है ।




Share on Google Plus

About travel.vibrant4.com

हमारा प्रयास है कि हम भारत के हर मंदिर की जानकारी पाठकों तक पहुंचाएं। यदि आपके पास ​किसी मंदिर की जानकारी है या आप इस वेबसाइट पर विज्ञापन देना चाहते हैं, तो आप हमसे vibrant4india@gmail.com पर संपर्क कर सकते हैं।

0 comments :

Post a comment

Popular Posts