इस मंदिर में मां को लिखित अर्जी देकर होती है मुराद पूरी



छपरा वाली माता, ​​हृदेनगर, मध्यप्रदेश (Chhapra Mata Temple, Hirdenagar, Mandla, Madhya Pradesh)

मध्य प्रदेश के मंडला में ​​हृदेनगर स्थान पर देवी मां का अनोखा मंदिर है। यहां जनास्थाएं इस कदर जुड़ी हुई हैं कि यहां महिलाओं को कभी प्रवेश नहीं दिया जाता है। स्थानीय लोग मानते हैं कि माता संतान संबंधी मनोकामना भी पूरी कर देती हैं।

मंडला से 10 किलोमीटर दूर छपरी वाली माता का यह अनोखा मंदिर स्थित है। महिलाओं का प्रवेश वर्जित होने के साथ ही यहां एक ओर रोचक बात यह है कि यहां मुराद बोलकर नहीं, बल्कि लिखकर मांगी जाती है। मनोकामना के पत्र को मां के चरणों में रख दिया जाता है और उसके बाद यह मनोकामना पूरी हो जाती है।

इस मंदिर मे ज्यादातर संतान की चाह रखने वाले श्रद्धालू आते हैं। साथ ही चोरी हुए सामान का पता लगाने के लिए भी यहां मुराद लिखी जाती है। साथ ही शिक्षा, अच्छा जीवनसाथी आदि की मुरादें भी मांगी जाती है। अच्छी खेती होने की मुराद भी मां से की जाती है। मुराद पूरी होने के बाद यहां पशुबलि की प्रथा भी है और मां को शराब भी चढ़ाई जाती है। यह परंपरा काफी लंबे समय से चली आ रही है। हालांकि पशुबलि की परंपरा अब काफी कम हो गई है।

मन्दिर में दर्शन का समय:
मंदिर में दिन के समय कुछ देर के लिए दर्शन बंद किए जाते हैं। वर्ष में दोनों नवरात्रि के अवसर पर यहां विशाल मेले का आयोजन होता है।

Chhapra Mata Temple, Hirdenagar, Mandla, Madhya Pradesh on Google Map


कैसे पहुंचें (How To Reach)
रेल मार्ग : मंडला मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के सभी प्रमुख शहरों से जुड़ा है। मंदिर तक जाने के लिए बस व कार सुविधा उपलब्ध है।

हवाई मार्ग :
नजदीकी हवाई अड्डा रायपुर एयरपोर्ट है, जो यहां से 270 किलोमीटर दूर है।

सड़क मार्ग :जबलपुर से 107, भोपाल से 386 और रायपुर से 250 किलोमीटर की दूरी पर है।
Share on Google Plus

About travel.vibrant4.com

हमारा प्रयास है कि हम भारत के हर मंदिर की जानकारी पाठकों तक पहुंचाएं। यदि आपके पास ​किसी मंदिर की जानकारी है या आप इस वेबसाइट पर विज्ञापन देना चाहते हैं, तो आप हमसे vibrant4india@gmail.com पर संपर्क कर सकते हैं।

0 comments :

Post a Comment

Popular Posts