यहां चार बड़ी चतुर्थी पर भरता है चौथ माता का लक्खी मेला



चौथ माता का मंदिर, चौथ का बरवाड़ा, सवाई माधोपुर, राजस्थान (Chauth Mata Temple, Chauth Ka Barwara, Sawai Madhopur, Rajasthan)

आप सवाई माधोपुर जा रहे हैं और यदि आपने चौथ माता के दर्शन नहीं किए, तो आपकी यात्रा कभी पूरी नहीं हो सकती। सवाई माधोपुर से करीब 22 किलोमीटर की दूरी पर चौथ माता का मंदिर एक पहाड़ी पर स्थित है। यह मंदिर राजपूताना शैली में सफेद संगमरमर का बना है।

स्थानीय लोगों के अनुसार मंदिर की स्थापना महाराज भीमसिंह चौहान ने संवत 1451 में बरवाड़ा गांव के शक्तिगिरि पर्वत पर की थी। उन्होंने यहां अपने पिता की छतरी बनवाई, शिवलिंग स्थापित किया और एक तालाब भी बनवाया। इस मंदिर की ऊँचाई लगभग 1100 फीट है। दर्शनार्थियों की संख्या के आधार पर यह मंदिर राजस्थान के 11 मंदिरों में शुमार है। यहां करवा चौथ, वैशाख चौथा, भाद्रपद चौथ और माघ चौथ को लक्खी मेले भरते हैं और श्रद्धालुओं की संख्या एक लाख से भी पार होती है।

इस मंदिर में माता जी के साथ गणेश जी की प्रतिमा भी स्थापित है। साथ ही मन्दिर मे भैरव जी भी विघमान है। यहां हर साल माघ माह सुदी चौथ से अष्टमी तक माताजी का विशाल मेला लगता है। माना जाता है कि मन्दिर मे सैकड़ों वर्षों से घी की अखण्ड ज्योति जलती चली आ रही है।

पहले यहां पहाड़ी पर चढ़कर ही माता के मंदिर में जाना होता था, लेकिन अब यहां रास्ता बन गया है और छाया के लिए फाइबर भी लगे हैं। यहां बाहर के यात्रियों के लिए धर्मशालाएं भी बनवाई गई हैं।

आप यहां बारिश के मौसम में आ सकते हैं। त्रिनेत्र गणेश मंदिर और रणथम्भौर दुर्ग के अलावा यह स्थान रणथंम्भौर राष्ट्रीय उद्यान के लिए भी मशहूर है। यहां आपको कई अन्य वन्य जीवों के अलावा टाइगर भी मिलेंगे। यहां का प्राकृतिक नजारा आपका मन मोह लेगा।

मन्दिर में दर्शन का समय:
मंदिर में तय समय पर आरती होती है। दिनभर दर्शन किए जा सकते हैं। प्रमुख चौथ के समय यहां काफी भीड़ रहती है।

Chauth Mata Temple, Chauth Ka Barwara, Sawai Madhopur, Rajasthan on Google Map


कैसे पहुंचें (How To Reach)
हवाई मार्ग: जयपुर एयरपोर्ट से लगभग 140 किलोमीटर।

सड़क मार्ग: राष्ट्रीय राजमार्ग 11 और 12 के रास्ते सवाई माधोपुर पहुंचा जा सकता है। जयपुर से दूरी 132 किलोमीटर है।

रेल मार्ग
: सवाई माधोपुर के पास चौथ का बरवाड़ा रेलवे स्टेशन है जो राजस्थान के प्रमुख शहरों जयपुर एवं कोटा से जुड़ा हुआ है। सवाई माधोपुर जंक्शन दिल्ली-कोटा-मुम्बई रेलवे मार्ग पर प्रमुख जंक्शन प्वाइंट है। यहाँ से जयपुर के लिए रेलवे लाइन जाती है। प्रमुख शहरों से सवाई माधोपुर जुड़ा हुआ है। यहाँ पर सभी एक्सप्रेस गाड़ियों का ठहराव होता है।

Share on Google Plus

About travel.vibrant4.com

हमारा प्रयास है कि हम भारत के हर मंदिर की जानकारी पाठकों तक पहुंचाएं। यदि आपके पास ​किसी मंदिर की जानकारी है या आप इस वेबसाइट पर विज्ञापन देना चाहते हैं, तो आप हमसे vibrant4india@gmail.com पर संपर्क कर सकते हैं।

0 comments :

Post a comment

Popular Posts