मंगलायतन, अलीगढ़ (Mangalayatan, Aligarh)


अलीगढ़ से आगरा मार्ग पर अलीगढ़ से लगभग 15 किलोमीटर की दूरी पर यह क्षेत्र स्थित है। इस क्षेत्र में चार मन्दिर हैं। क्षेत्र में मूल नायक प्रतिमा भगवान आदिनाथ की है, जो परम्परागत तरीके का पूजा स्थल नहीं है। इसे कृत्रिम पहाड़ी पर बनाया गया है। इसकी ऊंचाई लगभग 55 फीट है और उसपर भगवान आदिनाथ की विशाल प्रतिमा कमल के फूल पर विराजमान है।

इसके अतिरिक्त भगवान महावीर, जिनवानीणी मंदिर, बाहुबली मन्दिर हैं। क्षेत्र में भगवान आदिनाथ भगवान का मानस्तभ भी है, जो कि 63 फीट ऊंचा है। क्षेत्र में धन्यमुनि दशा गुफा भी बनाई गई है, जिसका शुल्क लिया जाता है।

क्षेत्र पर जैन गुरूकुल भी है, जहां जैन धर्म की शिक्षा दी जाती है। यह ग्राम 'छहढाला' ग्रंथ के रचियता पंडित दौलतरामजी की जन्मस्थली भी है। क्षेत्र पर भोजनालय व रूकने के सशुल्क सुविधा है।

यहां प्रतिवर्ष 30 जनवरी से 4 फरवरी तक वार्षिक उत्सव मनाया जाता है। यह एक कला क्षेत्र है।

मन्दिर में दर्शन का समय:

मन्दिर सुबह 5.30 बजे से सांयकाल 8.30 बजे तक खुलता है।

Mangalayatan on Google Map

कैसे पहुंचें (How To Reach)

सड़क: रेलव स्टेशन अलीगढ़/हाथरस 15 किलोमीटर
बस स्टेण्ड अलीगढ़ / हाथरस 15 किलोमीटर

क्षेत्र में दिन में ही पहुंचना और क्षेत्र से दिन में अन्य स्थान पर जाना उचित है। निजी वाहन से यात्रा किया जाना उचित है।

Share on Google Plus

About travel.vibrant4.com

हमारा प्रयास है कि हम भारत के हर मंदिर की जानकारी पाठकों तक पहुंचाएं। यदि आपके पास ​किसी मंदिर की जानकारी है या आप इस वेबसाइट पर विज्ञापन देना चाहते हैं, तो आप हमसे vibrant4india@gmail.com पर संपर्क कर सकते हैं।

0 comments :

Post a Comment

Popular Posts