अम्बिका माता मन्दिर, उदयपुर, राजस्थान (Ambika Mata Temple, Udaipur, Rajasthan)

राजस्थान का खुजराहो
झीलों की नगरी उदयपुर से दक्षिण-पूर्व दिशा में करीब 50 किमी़ की दूरी पर ऐतिहासिक जगत गांव स्थित है। इस गांव में मौजूद है 10वीं सदी का बना प्राचीन प्रसिद्ध अम्बिका माता मन्दिर। यहां दुर्गा माता की प्रतिमा है। अम्बिका दुर्गा का ही एक नाम है। मन्दिर का शिल्प और स्थापत्य देखते ही बनता है।

मन्दिर के सभा मण्डप और खम्भों पर विभिन्न देवी-देवताओं की प्रतिमाएं बनी हुई है। मूर्तियों के इस खजाने को देखते हुए अम्बिका माता मन्दिर परिसर को राजस्थान का खुजराहो भी कहा जाता है। सभा गृह के एक शिलालेख से पता चलता है कि विक्रम सम्वत् 1017 में किसी सबपुरा नामक व्यक्ति के पुत्र वल्लूर ने इसका जीर्णोद्धार करवाया था।

यह एक संरक्षित स्मारक है और राजस्थान का पुरातत्व एवं संरक्षण विभाग इसकी देखरेख करता है। यह मन्दिर मेवाड़ मंें लोक आस्था का प्रमुख केन्द्र है और यहां हर साल नवरा़त्रों में मेला आयोजित होता है। देसी-विदेशी सैलानी भी इस मन्दिर की भव्यता को देखने के लिए आते है।
मन्दिर में दर्शन का समय:
मन्दिर दिनभर खुला रहता है।

Ambika Mata Temple, Udaipur, Rajasthan on Google Map


कैसे पहुंचें (How To Reach)

सड़क मार्गः सबसे नजदीक शहर चित्तौडगढ़ है। जगत गांव से इसकी दूरी करीब 35 किमी. है जबकि उदयपुर से 50 किमी.। दोनों ही स्थानों बस एवं टैक्सी सेवा आसानी से उपलब्ध है।
रेलमार्गः नजदीक रेलवे स्टेशन उदयपुर में है।
हवाई मार्गः उदयपुर स्थित डबोक हवाई अड्डा जिसे अब महाराण प्रताप एयरपोर्ट भी कहा जाता है जगत गांव से 85 किमी. की दूरी पर स्थित है। यहां से टैक्सी मिल जाती है।

Share on Google Plus

About travel.vibrant4.com

हमारा प्रयास है कि हम भारत के हर मंदिर की जानकारी पाठकों तक पहुंचाएं। यदि आपके पास ​किसी मंदिर की जानकारी है या आप इस वेबसाइट पर विज्ञापन देना चाहते हैं, तो आप हमसे vibrant4india@gmail.com पर संपर्क कर सकते हैं।

0 comments :

Post a comment

Popular Posts